Examination fear ? How to overcome ? (in Hindi)

Examination fear ? How to overcome ? (in Hindi)

Examination fear ? How to overcome ? (in Hindi)

access_time 1 year ago chat_bubble_outline 0 comments
shareShare this post

परीक्षा या इम्तिहान से डर ? कैसे दूर करें ?

परीक्षा या इम्तिहान  (examination, examn) सामने आ रहा है ? रात को नींद नहीं आती ? क्या होगा ? क्या में अच्छा marks ला पाउँगा ?

नहीं तो मम्मी -पापा बहुत सतायेंगे, डाटेंगे ! परीक्षा या इम्तिहान के समय यही सब चिंताओं से मन भरा रहता है I है की नहीं ?

चिकित्सा शास्त्र में कोई भी डरावना मानसिक स्थितिवाले बीमारी का नाम ऐसे शब्द रखा गया है जिसके अंत में ‘phobia’ हो I अतः परीक्षा या इम्तिहान से डर को हम ‘examphobia’ कह सकते है I

लेकिन, मेरे प्रिय विद्यार्थियों, चिंता ना करें I नीचे में आपको 11 टिप्स बता रहा हूँ जिससे आपकी ये परेशानी दूर होगी I इन ग्यारह tips को ज़रा ध्यानपूर्वक पढ़ें I

  1. परीक्षा या इम्तिहान को एक चुनौती के तौर पर लीजिये I आप सब स्कूल या घर में वहुत सारे खेल खेलते होंगे, जैसे की फुटबॉल, बैडमिंटन, टेनिस आदि I आप खेल-कूद (Games & sports) को अपने साथियों के साथ एक चुनौती और प्रतियोगिता के तौर पर लेते है और उसको enjoy भी करते है I आप कभी खेल-कूद को लेकर भयभीत हुए है ? नहीं, कभी नहीं, क्यों ? क्योंकि, आप का मन या मस्तिष्क उन खेलों को जीतने के लिए एक challenge & competition है, ऐसा मान लिया है I इस तरह के मानसिकता या ‘मान लेना’ आपको जीतने के लिए डर के बजाय जोश और ताकत प्रदान करती है I स्कूल के लिखित examination के लिए या कोई भी अन्य examination के लिए भी बिलकुल यही नीति अपनाए, तब आप देखिये कि आप का भय या डर धीरे धीरे दूर हो रहा है, और बजाय आप उस examination को जीतने के लिए energetic and enthusiastic feel कर रहे हैं I
  1. हमारा जिंदगी examinations से भरा हुआ है I ईश्वर ने आपको इस दुनिया में बहुत सारे examinations के बीच में pass करने के लिए भेजा है I जनम लेने से लेकर अभी तक आपने बहुत सारे examinations और challenges पार करके आये हो, आप already बहुत मुश्किलों और बाधाओं को पार कर चुके हो, पुराने अतीत जीवन में उन सब को याद करिये I उन सब बाधाओं और परीक्षाओं को  पार करके आप अभी के इस उम्र 13, 14, 15, 16,जो भी हो, तक पहुँच चुके हो I अतः, examination हमारा जिंदगी का सफर (life journey) का एक अभिन्न हिस्सा है, इसके बारे में इतना चिंता ग्रस्त होने की जरूरत नहीं है I जैसे खाना खाना, toilet जाना, पोट्टी करना, नहाना, बाल काटना, दाढ़ी बनाना, बीमारियों  का कष्ट सहन करना, आदि आपके जीवनयात्रा के अभिन्न अंग है,  और इन सबको आप टाल भी नहीं सकते, उसी तरह school examination भी एक सच है I ऐसा सोच आपका मन में शक्ति और साहस का संचार करेगा I
  1. अपने syllabus से भली भांति परिचित हो जाइये और उसी के मुताबिक़ plan करके पढ़ाई करिये I सबसे पहले आप अपनी पाठ्यक्रम (syllabus) को अच्छी तरह से जान लीजिए, examn में क्या क्या subjects or study material आनेवाले है, इससे आप भली भांति परिचित हो जाइये I यह बहुत ही महत्वपूर्ण है I यदि आप अपना पूरा study materials को एक साथ एक जगह इकट्ठा न करियेगा, तो आप कभी भी examn में उत्तीर्ण होने में सफल नहीं होंगे I अगर आपका अध्ययन सामग्री (study materials) बिखरा हुआ होगा, तो आप पढ़ाई  में  focussed या concentrated नहीं हो  पाओगे I इसलिए आप अपनी पाठ्यक्रम (syllabus) या अध्ययन सामग्री (study materials) को अच्छी तरह से समझ लीजिये और केवल उसी पर focus करिये I
  2. Examn के ठीक पहले study के ऊपर ज़्यादा focus करिये और दूसरे activities को कम कर दीजिये I इससे आपको सिर्फ एक ही काम यानी की study और examn pass करने के ऊपर  focus करने के लिए ज़्यादा energy और समय मिलेगी I कुछ दिनों के लिए आप कुछ कुछ activities को, जैसे खेलना, Gym में जाना, music और गाना अभ्यास करना, अन्य activities, आदि, या तो बंद कर दीजिये या कम कर दीजिये I इस तरह से आप सिर्फ एक ही काम अर्थात study पर अधिक केंद्रित (focussed) हो पाएंगे, और अच्छी score या marks के साथ examn pass करने का संभावना (probability) आपका बढ़ जायगा I
  3. स्वास्थ्य की देखभाल I यह बहुत बहुत जरूरी है I अगर आपका health ठीक नहीं रहेगा, तो आप पढ़ाई (study) में effort नहीं  दे सकते, और आपका examn में उत्तीर्ण ( pass ) होने का संभावना कम हो जायगा I अगर आप अक्सर बीमारियों (diseases) से परेशान रहते हो, तो आप पढ़ाई लिखाई (study) के काम में मन  को लगा  नहीं सकते I अतः  इस बारे  में हमेशा सतर्क रहिये की आप बीमार ना पड़ो और आपका पढ़ाई disturb ना हो I स्वास्थ्‍यकर खाना खाइये, स्वच्छता का ध्यान रखिये, रोज toilet पे जाइये, सर्दी और गर्मी की मौसम के अनुसार ठण्ड और गर्मी के अत्यधिक प्रकोप से बचने के उपायों का अवलम्वन करिये, और इसी तरह सरल छोटी छोटी स्वास्थ्य-रक्षाकारी tips को अपनाते रहिये I
  4. देर रात तक जाग कर मत पढ़िए I अध्ययन करना और ज्ञान आहरण करना, ये दोनों सीधे आनुपातिक नहीं है I यह कोई सीधा सा गणित नहीं है I मनुष्य के जीवन यापन के कामकाज (activities) में हर समय हर जगह गणित (mathematics) का प्रयोग नहीं कर सकते I अगर एक मंदबुद्धि (dull) या कम मेधावी छात्र बहुत देर तक पढ़ाई करता है, तो क्या वह बहुत कुछ सीख लेगा और आसानी से examn pass कर पाएगा ? नहीं, कभी भी नहीं I  Practically ऐसा नहीं होता है I बहुत देर तक पढ़कर एक मंदबुद्धि (dull) या कम मेधावी छात्र जितना ज्ञान आहरण कर पाएगा या सीख पाएगा, उससे कहीं अधिक एक मेधावी छात्र कम समय में ही सीख लेगा I हालांकि, समय कोई भी कार्यकलाप या प्रयास का एक महत्वपूर्ण factor है, लेकिन केवल एक मात्र factor नहीं है I अतः, ऐसे बहुत छात्र हैं, जो डर के मारे, syllabus खत्म करने के चक्कर में देर रत तक जाग कर पढ़ते हैं I यह अच्छा अभ्यास नहीं है I यह आपका health ख़राब करेगा और आपका study और examn pass करने के ऊपर निश्चित ही बहुत बुरा असर डालेगा I देर रात जाग कर पढ़ाई को टालने के लिए आप अपना कीमती समय का planning करके सदुपयोग करने का बंदोबस्त करें I
  5. एक व्यावसायिक मनोवृत्ति अपनाइये I Business जैसा मानसिकता अपनाइये I व्यवसाय (business) में लोग पैसा लगाते है लाभ (profit) करने के लिए, कोई नुक्सान (loss) खाने के लिए नहीं I Profit होने के लिए और Loss न होने के लिए वे business में जी-जान प्रयास करते है I वह जोशपूर्ण रहते है और कोई मानसिक दुर्बलता आने नहीं देते I School की परीक्षा (examn) pass करने के लिए हमारा मानसिकता (mentality) भी ऐसा ही होना चाहिए I इसको (examn) एक ‘जीवन व्यवसाय’ की नज़रिया से देखना या सोचना चाहिए I
  1. पढ़िए और साथ साथ लिखिए भी, दोनों के समान अभ्यास जरूरी I सिर्फ मन ही मन पढ़ने पर आपको याद रखने में दिक्कतें आयगी I कभी कभी, important चीज़ों को लिखते रहिये, इससे आपको याद रखने में मदद मिलेगी
  2. Education ( शिक्षा या पढ़ाई-लिखाई ) एक बुनियादी ज़रूरत है I आधुनिक सभ्यता में, Education, कम से कम एक Degree, बहुत ही आवश्यक हो गया है I क्या भविष्य में आप ‘अनपढ़’ या ‘अशिक्षित’ के धब्बे पर हास्यास्पद बनना चाहते है ? शायद नहीं I इसलिए ऐसा मानसिकता बना लीजिये की आपको ‘शिक्षित या पढ़े-लिखे’ आदमी का धब्बा या मुहर पर सर ऊंचा करके जीना है, और इसीलिये आप को किसी भी तरह examn pass करना ही है I ऐसा सोच आपका मन में शक्ति और साहस का संचार करेगा I
  3. यह पढ़ाईलिखाई और examn pass करने का झंझट ज़िंदगीभर नहीं है I यह study करना और कोई सारे examn pass करने का boring ( अच्छा नहीं लगता ) काम पुरे ज़िंदगी भर के लिए नहीं है I यह ज़िंदगी के केवल कुछ अवधि तक है I School या college के तथाकथित पाठ्यक्रम पूरा करने के बाद आप मुक्त (free) है और आप अपना जिंदगी enjoy कर सकते है I जैसे traffic jam के बाद, मुफ्त या खुला सड़क मिलता है, वैसा ही सोच study और examn के बारे में  भी I इस type का सोच आप को जोश से भरेगा और आपको निडर बनाएगा I
  4. और अंतिम तथा महत्वपूर्ण बात, मन को विश्वासी और जोरदार बनाइये I आपको मानसिक तौर पर बहुत ही शक्तिशाली और विश्वासी होना होगा I किसी भी हालत में आपको examn pass करना ही पड़ेगा, परीक्षा में उत्तीर्ण होना ही पड़ेगा, यह आपका जीविका या पेशा है I आपको जीतना ही होगा I अगर आप fail होते है, तो यह आपके लिए बहुत ही नुकसानदायक साबित होगा I इस type का सोच आप को जोश से भरेगा और आपको निडर बनाएगा I

 

तो, पाठकों, दर्शकों, दोस्तों, छात्रों ! Examination या परीक्षा के बारे में मेरा यह लेख को पड़कर आप सब को कैसा लगा ? मुझे कमेंट (comment)के माध्यम से ज़रूर बताएँ, अपने दोस्तों और रिश्तेदारों को social media के माध्यम से ज़रूर share करें  !

 

अगर आप चाहें, तो अंग्रेजी में भी इस लेख का एक भाषांतर यहां क्लिक करने पर आपको उपलब्ध होगा I

shareShare this post
folder_openAssigned tags
content_copyCategorized under

No Comments

comment No comments yet

You can be first to leave a comment

Submit an answer

info_outline

Your data will be safe!

Your e-mail address will not be published. Also other data will not be shared with third person.

5 × two =