Inspirational Quotes : About Sachin Tendulkar (What people say)(in Hindi)

Inspirational Quotes : About Sachin Tendulkar (What people say)(in Hindi)

Inspirational Quotes : About Sachin Tendulkar (What people say)(in Hindi)

access_time 2 weeks ago chat_bubble_outline 0 comments
shareShare this post
हेलो, मेरे प्रिय दुनिया के तमाम पाठकों, दर्शकों, दोस्तों और छात्रों ! सचिन तेंदुलकर, अगर पूरा नाम कहे तो, सचिन रमेश तेंदुलकर, एक किंवदंती नाम है भारत और यहां तक कि पुरे विश्व की क्रिकेट दुनिया में।  भारत में वह अब तक का सबसे ज़्यादा चर्चित क्रिकेटतारका है।  सचिन को उनके अनुरागी और मीडिया द्वारा प्यार से और भी कोई नामों से बुलाया जाता है, जैसे : मास्टर ब्लास्टर, लिटिल मास्टर, क्रिकेट के भगवान्, विश्व के सर्वोत्तम  एथलीट, आदि।  वह भारत को क्रिकेट की दुनिया में एक बहुत ही महत्वपूर्ण उच्च स्थान पर उठाया। सचिन को, भारत सर्वोच्च नागरिक सम्मान, ‘भारतरत्नमिला।  सिर्फ उनके लिए ही पहली बार भारत सरकार को मजबूर होना पड़ा खेल के क्षेत्र में भी भारतरत्न पुरस्कार देने का सुविधा चालु करना।  यह कोई गोपनीय बात नही है कि भारत में क्रिकेट एक धर्म जैसा है, और सचिन तेंदुलकर इस धर्म का सबसे ऊंचा भगवान हैं।   
सचिन तेंदुलकर के प्रशंसा में दुनियाभर के प्रतिष्ठित व्यक्तियों द्वारा कहे गए इन वचनों को ध्यानपूर्वक एक एक करके पढ़िए।  आपको प्रेरणा, जोश, ऊर्जा, आनंद मिलेगा।  कुछ कुछ कथनों से आप सहमत नहीं भी हो सकते हैं, कुछ बातें आपको अतिरंजित महसूस होगा, खैर, आपको जो समुचित लगें वह आप मानिये और मज़ा लीजिये। 

Inspirational Quotes : About Sachin Tendulkar (What people say)(in Hindi)

प्रेरणात्मक विचार : सचिन तेंदुलकर के वारे में (लोग क्या कहते हैं)( हिंदी में)

                  

  • दुनिया में दो तरह के बल्लेबाज़ हैं, पहला सचिन तेंदुलकर, दूसरा बाकी सभी — एंडी फ्लावर ( ज़िम्बाब्वे के क्रिकेट खिलाड़ी )
  • मैं क्रिकेट के बारे में नहीं जानता पर फिर भी मैं सचिन को खेलते हुए देखने के लिए क्रिकेट देखता हूँ। इसलिए नहीं कि मुझे उसका खेल पसंद है, बल्कि इसलिए क्योंकि मैं जानना चाहता हूँ कि आखिर जब वो बैटिंग करता है तो मेरे देश का प्रोडक्शन 5 % गिर क्यों जाता है ? — बराक ओबामा (अमेरिका के 44वा राष्ट्रपति )
  • हमारे साथ कुछ बुरा नहीं हो सकता अगर हम इंडिया में एक हवाई-जहाज़ में हों जिसपर सचिन तेंदुलकर सवार हों — हाशिम अमला ( दक्षिण अफ्रीका के क्रिकेट खिलाड़ी )
  • मैं चाहता हूँ कि मेरा बेटा सचिन तेंदुलकर बने — ब्रायन लारा (किंवदंती वेस्ट इंडीज क्रिकेट खिलाड़ी )
  • मुझे  टिकट खरीदकर और स्टैंड पर खड़े होकर एक ही बल्लेबाज है जिसको सिर्फ देखने का दिल होता है, वह और कोई नहीं, सचिन तेंदुलकर ।  — ब्रायन लारा (किंवदंती वेस्ट इंडीज क्रिकेट खिलाड़ी )
  • सचिन एक प्रतिभा (genius) हैं, मैं तो एक सामान्य नश्वर हूँ। — ब्रायन लारा (किंवदंती वेस्ट इंडीज क्रिकेट खिलाड़ी )
  • जैसे माइकेल जॉर्डन हैं बास्केटबॉल में और मुहम्मद अली हैं मुक्केबाजी (Boxing) में , वैसे ही तेंदुलकर हैं क्रिकेट में । — ब्रायन लारा (किंवदंती वेस्ट इंडीज क्रिकेट खिलाड़ी )
  • जब आप देखते हैं तब प्रतिभा को जान सकते हैं, और मैं आपको कहता हूँ कि सचिन एक शुद्ध प्रतिभा हैं ।— ब्रायन लारा (किंवदंती वेस्ट इंडीज क्रिकेट खिलाड़ी )
  • मैंने भगवान् को देखा है, वो टेस्ट मैचों में इंडिया की तरफ से नंबर चार पर बैटिंग करते हैं — मैथ्यू हैडेन (ऑस्ट्रेलियाई क्रिकेट खिलाड़ी )
  • सिर्फ एक वाकिंग स्टिक से भी वह लेग-ग्लांस खेल सकता है।  — वक़ार यूनिस ( पाकिस्तानी क्रिकेट खिलाड़ी )
  • निश्चित रूप से सर्वोत्कृष्ट मैंने देखा, ….. लोग (सर डॉन ब्रॅडमन) के बारे में बोलते हैं, पर हमारी पीढ़ी और हमारी ठीक सामने की अगली पीढ़ी उनको देखा नहीं।  ……… ठीक है कि उनको एक अदभुत औसत (99.94) था, पर मेरे देखे हुए क्रिकेटरों में सचिन ही सर्वोत्कृष्ट हैं। — वक़ार यूनिस ( पाकिस्तानी क्रिकेट खिलाड़ी )
  • हम एक इंडिया नाम के टीम से नहीं हारे, हम सचिन नाम के एक इंसान से हारे हैं  — मार्क टेलर (ऑस्ट्रेलियाई क्रिकेट खिलाड़ी )
  • उसे ख़राब गेंद मत फेंको, वो तो अच्छी गेंदों पर भी चौका मारता है — माइकल कास्परोविच (ऑस्ट्रेलियाई क्रिकेट खिलाड़ी )
  • जब हम खेलते थे तब हम सोचते थे की सुनील गावस्कर का रिकॉर्ड कोई तोड़ नहीं सकते । उस समय कोई भी पचास टेस्ट सेंचुरी के बारे में नहीं सोच सकते थे। यह उस परिस्थिति के नीचे सचमुच एक बड़ा कदम है,  और से बेहतर है।  — कपिलदेव ( तेंदुलकर के 50वा टेस्ट शतक के बारे में ) (भारतीय क्रिकेट खिलाड़ी )
  • आप सचिन के क्रियाकलाप (deeds) को किसी सांख्यिकीय ढांचे (statistical frame) में डाल नहीं सकते। बल्लेबाजी (batting) की कला में वह सतत (unstinted) आनंद (joy) लाते हैं। मेरा मानना है, उनकी उंचाईं एक व्यक्ति को सामूहिक खेल परिचालन करने जैसा उच्चावस्था का सबसे उत्कृष्ट प्रतीक है।   सचिन का क्रिकेट का सौंदर्य शब्द कभी नहीं पकड़ पायेगा।  — कपिलदेव(भारतीय क्रिकेट खिलाड़ी )
  • वह वहां हैं जहां हम हो नहीं सकते — अजय जडेजा (भारतीय क्रिकेट खिलाड़ी )
  • मैने जितना देखा, सचिन सबसे परिपूर्ण बल्लेबाज हैं। — रिकी पोंटिंग (ऑस्ट्रेलियाई क्रिकेट खिलाड़ी )
  • वह ऐसा कोई है जिनको ऊपर से भेजा गया क्रिकेट खेलने के लिए और लौटने के लिए। — रवि शास्त्री (भारतीय क्रिकेट खिलाड़ी )
  • सचिन को बल्लेबाजी करते हुए देखने से बेहतर और कोई दृश्य क्रिकेट की मैदान में नहीं है। — हर्षा भोगले(भारतीय क्रिकेट भाष्यकार)
  • अगर सचिन अच्छे से बैटिंग करता है, तो भारत अच्छे से सोता है — हर्षा भोगले(भारतीय क्रिकेट भाष्यकार)
  • सचिन, आप एक बड़ा अभ्यास है ! — हर्षा भोगले (भारतीय क्रिकेट भाष्यकार)
  • सचिन के जो चीज़ मैं सबसे ज़्यादा पसंद करता हूँ वह है उनका तीव्रता । खेल में इतना दिन रहने के बाद भी उनके मन में अभी भी कोई भी अन्तर्राष्ट्रीय मैच में भारत के लिए अच्छा करने का वही इच्छा होता है। मैं आपको क्या बोलूं, यह आदमी एक किंवदंती है। — सौरभ गांगुली (भारतीय क्रिकेट खिलाड़ी )
  • सचिन इतना ही एकनिष्ठ था। वह कभी आउट होगा बोलके लग नहीं रहा था।  वह एकाग्रचित्त निष्ठा से बल्लेबाजी कर ही रहा था।  यह सचमुच अनूठा था।  यह एक सिख था।  — मार्टिना नभरतिलोवा ( किंवदंती टेनिस खिलाड़ी )
  • अपने करोड़ों देशवासियों के लिए जो आनंद लाते हैं, जिस विनीत भाव से सारे उच्चप्रशंसा को झेलते हैं और उच्चाकांक्षाएँ और उनका सहजात विनम्रता — ये सारे उनको एक ‘लाखों-में-एक’ इंसान बनाता हैं।  — ग्लेन मैक्ग्रॉथ (ऑस्ट्रेलियाई क्रिकेट खिलाड़ी )
  • पुरालेख एक भी दोषी ठहरानेवाला घटना का याद नहीं दिलाता, एक भी मनमाना पलायन का नहीं, एक भी प्रतिवेदित मामला का नहीं, एक भी साथी खिलाड़ियों या संवाद-दाता के साथ झगड़ा का नहीं, ……… क्या वह मानव है ( या देव ) ? — माइकल अथर्टन ( इंग्लिश क्रिकेट खिलाड़ी और पत्रकार )
  • जब तक सचिन क्रीज़ पर होता हैं, तब तक मुझे अंपायरिंग में कभी थकावट महसूस नहीं होता। — रूडी कोएर्टज़ेन (दक्षिण अफ्रीकी अंपायर)
  • टेस्ट क्रिकेट है ही घटिया कठिन काम, खासकर अगर आपको सचिन को 3 मीटर चौड़ा बल्ला से बल्लेबाजी करते हुए मिले। — माइक हुस्से (ऑस्ट्रेलियाई क्रिकेट खिलाड़ी )
  • तकनीकी रूप से, आप सचिन को दोषी ठहरा नहीं सकते। सीम हो या स्पिन, फ़ास्ट हो या स्लो, कुछ भी समस्या नहीं। — ज्यॉफ्री बायकाट ( इंग्लैंड क्रिकेट खिलाड़ी )
  • आप जब सचिन के खिलाफ खेलते हो, तो आप लगभग ऐसा ही चाहते हो की वह कुछ रन बनाएं, सिर्फ उनको बल्लेबाजी करते देखने के लिए। — मार्क वॉ (ऑस्ट्रेलियाई क्रिकेट खिलाड़ी )
  • स्कोर(score) के बावजूद भी, जब भी सचिन बल्लेबाजी(batting) करने आते हैं, तो वो दबाव(pressure) में रहते हैं। वह दबाव उनलोगों से आते है जो उनकी ओर देखे रहते हैं, जो प्रार्थना (prayer) करते हैं कि वो एक शतक(century) बना लें, जो जब सचिन बल्लेबाजी करने आते हैं तब इस तरह जयकार (cheer) करते हैं जैसे इंडिया जीत गया है, और जो आउट होने के बाद चुपचाप बाहर निकल जाते हैं।  जब कोई टीम इंडिया के दौरे पर होते है, तो वहलोग जान जाते हैं कि भारतीय लोग किसको खोज रहे होते। जबकि वहलोग इंडिया को खेलते हुए देखने का मज़ा तो लेते हैं, पर इसमें कोई शक नहीं है की तेंदुलकर ही वह खिलाड़ी है जिनका खेल उपभोग करने में सबसे ज्यादा मज़ा लेते है। जब वो बल्लेबाजी करने आते हैं, तब एक गुंजन (buzz) उठती है, और अगर वो हार जाते हैं तो बाकी खेल तक जनता चुप बैठ जाते हैं।  — मार्क वॉ (ऑस्ट्रेलियाई क्रिकेट खिलाड़ी )
  • मैं भाग्यशाली हूं कि मुझे उनकी और गेंद सिर्फ नेट में ही फेंकना होता है। — अनिल कुंबले (भारतीय क्रिकेट खिलाड़ी )
  • उनके साथ खेलकर और उनके बनाये ज्यादातर रन देखकर मैं खुद को बहुत ही भाग्यशाली मानता हूँ। उनके साथ एक ही ड्रेसिंग रूम शेयर कर पाने के लिए भी मैं बहुत खुश हूँ।  वह एक बहुत ही संरक्षित आदमी हैं और सामान्यतः खुद में ही रहते हैं। वह बहुत ही दृढ़प्रतिज्ञ,  वफादार हैं और ज्यादा आवेग दिखाते नहीं। वह सिर्फ अपना काम करते रहते हैं। — अनिल कुंबले (भारतीय क्रिकेट खिलाड़ी )
  • सचिन जैसे क्रिकेट खिलाड़ी जीवन में एक बार आते हैं और मैं सौभाग्यशाली हूँ कि वो मेरे समय में खेला. — वसीम अकरम( पाकिस्तानी क्रिकेट खिलाड़ी )
  • मेरे मन में कोई शक नहीं कि आधुनिक जमाने के वो सबसे महान बल्लेबाज हैं और उनके जैसा बहुत जल्दी आनेवाला और कोई मुझे नहीं दिखाई देता। उनके खिलाफ खेलना एक सौभाग्य था। —  वसीम अकरम( पाकिस्तानी क्रिकेट खिलाड़ी )
  • “तुझे पता है तूने किसका कैच छोड़ा है ?” — वसीम अकरम (पाकिस्तानी क्रिकेटर) अब्दुल रज़्ज़ाक (पाकिस्तानी क्रिकेटर) को बता रहे थे, जब वह 2003 विश्व कप में तेंदुलकर का कैच छोड़ा था
  • आप उसे आउट कर दीजिये और आप आधी जंग जीत  लेते हैं — अर्जुन रणतुँगा (श्रीलंका के क्रिकेट खिलाड़ी )
  • अगर मेरे नाती-पोते इस फैक्ट को ना भी याद रखें कि मैंने वन डे और टेस्ट क्रिकेट में 10,000 रन बनाए, लेकिन वे इस फैक्ट के बारे में ज़रूर बात करेंगे कि मैं सचिन तेंदुलकर  का टीममेट था —  राहुल द्रविड़ (भारतीय क्रिकेट खिलाड़ी )
  • मैंने सचिन की बैटिंग देखने के लिए कई बार अपने शूट्स डिले किये हैं — अमिताभ बच्चन(किंवदंती भारतीय चित्राभिनेता)
  • भारत के लिए सचिन का महत्व मुझसे ज्यादा है — अमिताभ बच्चन(किंवदंती भारतीय चित्राभिनेता)
  • जब हम बड़े हो रहे थे, हम सब सचिन को देखते थे। हमारे सामने वह भगवान् जैसा था, उनके चारों ओर वह आभामंडल (aura) था।  — एम् एस धोनी (भारतीय क्रिकेट खिलाड़ी )
  • वो शत प्रतिशत से ज्यादा देने का कोशिश करता हैं और खेल के लिए उनका विद्यार्थी जैसा जोश ऐसा कुछ है जिसे मैं ईर्ष्या और श्रद्धा करता हूँ। टीम के लिए वो सबसे बढ़िया उपलब्ध ‘कोचिंग मैन्युअल’ (coaching manual) हैं। — महेंद्र सिंह धोनी (भारतीय क्रिकेट खिलाड़ी )
  • मुझे अक्सर गरी क्रिस्टन को याद दिलाना पड़ता था की वह सचिन के खिलाफ फील्डिंग के घेरे में है और उनके लिए तालियां न बजाय। — हंसी क्रोंजे ( दक्षिण अफ्रीकी क्रिकेट खिलाड़ी )
  • क्रिकेट में मेरा सुपर हीरो है सचिन तेंदुलकर। वह हमेशा ही मेरा हीरो रहा और ऐसा ही हीरो बने रहेंगे। — विराट कहली (भारतीय क्रिकेट खिलाड़ी )
  • तेंदुलकर ने 21 साल तक देश की उम्मीदों का बोझ उठाया है । समय आ गया है कि हम उसे अपने कन्धों पर उठाएं. — विराट कोहली(भारतीय क्रिकेट खिलाड़ी )
  • आपके जैसा एक ही हवा में सांस लेने की अनुमति देने के लिए मेरी दिल की गहराई से मैं आपको धन्यवाद देना चाहता हूँ।  — शाहरुख़ खान (भारतीय चित्राभिनेता )
  • वो इतने समय तक फॉर्म में रहा है जितना कि हमारे कुछ खिलाड़ियों की उम्र तक नहीं है — डेनियल विटोरी ( न्यूजीलैंड क्रिकेट खिलाड़ी )
  • सचिन तेंदुलकर, लिटिल मास्टर, इतना मेधावी है कि आप जहाँ से भी हो, वह दुसरा शतक करते ही आप उनका प्रशंसा छोड़के और कुछ नहीं कर सकते।— डेविड कैमेरॉन ( UK के भूतपुर्ब प्रधान मंत्री )
  • इंडिया में आप प्राइम मिनिस्टर (Prime Minister) को एक बार कटघरे में खड़ा कर सकते हैं । पर सचिन तेंदुलकर पर ऊँगली नहीं उठा सकते । — नवजोत सिंह सिधु (भारतीय क्रिकेट खिलाड़ी )
  • उनका दिमाग एक कंप्यूटर(computer) जैसा है।  वो गेंदबाजों (bowlers) में तथ्यादि (data) संचित (store) रखते हैं और जानते हैं कि वे कहाँ पर गेंदों (balls) को  पिच (pitch) करने जा रहे हैं।  — नवजोत सिंह सिधु (भारतीय क्रिकेट खिलाड़ी )
  • इतने महान खिलाड़ी से हारने में कोई शर्म नहीं है । — स्टीव वॉ (ऑस्ट्रेलियाई क्रिकेट खिलाड़ी )
  • वह पिछले सप्ताह थे जब अंतिम बार मैं सचिन को खेलते देखा जब वो शानदार रन बनानेवाले थे और मैं और एक बार अनुभव किया कि मैं एक ऐसा खिलाड़ी को देख रहा हूँ जो शताब्दी में एक बार ही आते हैं। यह बताया जा सकता है कि वो हमारे समय का ब्रॅडमन हैं और उनके खिलाफ बहुत सारे क्रिकेट खेलने के लिए मैं अपने आपको सौभाग्यवान महसूस करता हूँ। — स्टीव वॉ (ऑस्ट्रेलियाई क्रिकेट खिलाड़ी )
  • अगर मुझे सचिन की और गेंदबाजी करना है, तो मैं हेलमेट पहनकर ही करूंगा। वह इतना जोर से गेंद फेकते है. — डेनिस लिल्ली (ऑस्ट्रेलियाई क्रिकेट खिलाड़ी )
  • मैं बहुत ही शर्मिन्दा अनुभव कर रहा हूँ, क्योंकि मैं उनको ‘फ़ास्ट बॉलर’ बोलकर ठुकराया था।  मैं सोचता हूँ कि मैंने किया और क्रिकेट की खेल को एहसान किया।  — डेनिस लिल्ली (ऑस्ट्रेलियाई क्रिकेट खिलाड़ी, तेंदुलकर को गेंदबाजी के बजाय बल्लेबाजी पर ज्यादा ध्यान देने की सलाह देते हुए, जब वो सन 1987 में MRF Pace Academy में आये थे )
  • एक ओवर में मैं छह अलग अलग गेंदबाजी कर सकता हूँ। पर तब सचिन पिच की नीचे से एक हल्का सा गुस्से की नज़र से मेरी ओर देखता हैं, जैसा मानो कि कहा रहा हो “तुम मुझे दुसरा गेंद फेंक सकते हो ?” — आदम होलिअके (ऑस्ट्रेलियाई क्रिकेट खिलाड़ी, एथलीट, मार्शल आर्टिस्ट )
  • जब आप उसकी ओर गेंद फेकते हो , तब आप उनको सिर्फ आउट करने के लिए ही कोशिश नहीं करते हो, आप उनको प्रभावित करने का भी कोशिश करते हो।  मैं चाहता हूँ कि वह यह सोचकर बाहर निकल जाय की ‘ फ़्लिंटॉफ़, वह ठीकठाक है, है न ?’ उनके खिलाफ खेलकर मैं खुद को विशेषाधिकार प्राप्त मानता हूँ।  — एंड्रू फ़्लिंटॉफ़ (इंग्लिश क्रिकेट खिलाड़ी )
  • जब मैं सचिन को बैटिंग करते देखता हूँ तो मैं खुद को देखता हूँ — डान ब्रैडमेन ( किंवदंती ऑस्ट्रेलिआई क्रिकेट खिलाड़ी )
  • मैं उनको (सचिन) टेलीविज़न पर खेलते हुए देखा था और उनका तकनीक देखकर चक गया था, इसीलिये मैं अपना पत्नी को बुलाकर उनको देखने के लिए कहा था। अब मैं कभी भी खुद को खेलते हुए नहीं देखा, लेकिन मैं यह महसूस करता हूँ यह खिलाड़ी बिलकुल वैसा ही खेलता है जैसा मैं खेलता था, और वह (मेरी पत्नी) उनको टेलीविज़न पे देखा और बोला, हाँ, दोनों में समानता है, ….. उनका सघनता, तकनीक, स्ट्रोक की उत्पादन, … ये सारे एक जेल में समाहित है जैसा लगता था।  — सर डोनाल्ड ब्रेडमैन ( किंवदंती ऑस्ट्रेलिआई क्रिकेट खिलाड़ी, क्रिकेट की इतिहास में जिनको व्यापक रूप से सबसे बड़ा बल्लेबाज माना जाता है )
  • सज्जनों, मैं अपने ज़िंदगी में जितना देखा उनमें से वह सबसे बढ़िया बल्लेबाज हैं। और आपलोगों में से ज्यादातर जैसा नहीं, मैं उनमें ब्रॅडमन को बल्लेबाजी करते हुए देखा।  — जॉन वुडकॉक (अंग्रेज पत्रकार )
  • शिमला से दिल्ली तक जाने वाली एक ट्रैन में, एक स्टेशन पे एकबार रुका था।  वह ट्रैन हमेशा की तरह कुछ मिनट के लिए  रुका।  सचिन एक शतक की नज़दीक था, 98 पर बल्लेबाजी कर रहा था।  यात्रियों, रेल अधिकारियों, ट्रैन ने सवार सभी, सचिन की शतक पूरा होने तक इंतज़ार किया।  यह प्रतिभा भारत में समय को रोक सकता है. — पीटर रोइबूक (इंग्लिश क्रिकेट खिलाड़ी )
  • मैं नहीं सोचता कि, डॉन ब्रैडमैन को छोड़कर और कोई भी सचिन तेंदुलकर के समान श्रेणी में हो। — शेन वर्ण ( किंवदंती ऑस्ट्रेलिआई क्रिकेट खिलाड़ी )
  • मैं सचिन विकेट गिरा रहे हैं और छक्का मारने के लिए मुझे सर के पीछे से बेल्ट से मार रहें हैं ऐसा ख्वाब देखकर बिस्तर पर सोने जाऊंगा। वह रुकनेवाला नहीं हैं।  — शेन वर्ण ( किंवदंती ऑस्ट्रेलिआई क्रिकेट खिलाड़ी )
  • मेरे समय में निःसंदेह सचिन तेंदुलकर ही सबसे अच्छा खिलाड़ी हैं, डेलाइट(वेस्ट इंडीज क्रिकेट खिलाड़ी) दूसरा, ब्रायन लारा तीसरा हैं। — शेन वर्ण ( ऑस्ट्रेलियाई क्रिकेट खिलाड़ी, जब पूछा गया कि उनके मुताबिक विश्व का सबसे बड़ा बल्लेबाज कौन है ?)
  • सचिन तेंदुलकर और ब्रायन लारा के बारे में, यह बेहतर है कि वे दोस्त बन जाएँ और तनाव के बजाय हसें।— शेन वर्ण ( किंवदंती ऑस्ट्रेलिआई क्रिकेट खिलाड़ी )
  • मैंने डॉन को नहीं देखा लेकिन मेरे लिए, जितने भी सालों से मैं इस गेम से जुड़ा हूँ, मैंने सचिन तेंदुलकर से बेहतर बल्लेबाज नहीं देखा । — सर विव रिचर्ड्स( वेस्ट इंडीज क्रिकेट खिलाड़ी )
  • मैं सोचता हूँ वह अनोखा हैं। मैं सोचता हूँ कि क्रिकेट की कोई भी श्रेणी हो, खेला गया या खेला जायगा, पहला फेंका गया गेंद से लेकर आख़री फेंकने वाली गेंद तक, उसमें वह योग्य होगा। वह कोई भी काल     और स्तर में खेल सकता हैं।  मैं बोलूंगा वह5 प्रतिशत सही हैं।  — सर विवियन रिचर्ड्स ( वेस्ट इंडीज क्रिकेट खिलाड़ी )
  • मैं डॉन को देखा नहीं, पर मेरे लिए, मैं जितने सालों तक खेल से जुड़ा रहा हूँ, सचिन तेंदुलकर से बेहतर बल्लेबाज मैंने नहीं देखा। — सर विवियन रिचर्ड्स ( वेस्ट इंडीज क्रिकेट खिलाड़ी )
  • सचिन तेंदुलकर मुझे अक्सर एक अनुभवी सेना कर्नल का याद दिलाता था जिनके सीने पर उन्होंने पुरे विश्वभर में कैसे गेंदबाजों को जीता था दर्शाने के लिए बहुत सारे पदक थे। — अल्लन डोनाल्ड ( दक्षिण अफ्रीकी क्रिकेट खिलाड़ी )
  • मेरा अंतर्राष्ट्रीय क्रिकेट ज़िंदगी के कोई वर्षों में, मेरे लिए तेंदुलकर ही सर्वश्रेष्ठ बल्लेबाज रहा जिनको मैं गेंदबाजी किया।किसी को उनके साथ खेल पाने का श्रेय न मिलने के बावजूद भी इस मास्टर बल्लेबाज को गेंदबाजी करने में बड़ा ही आनंद आता है। — अल्लन डोनाल्ड ( दक्षिण अफ्रीकी क्रिकेट खिलाड़ी )
  • हो सकता है आप पीच (pitch) पे ऑफ स्टाम्प (off stamp) पे एक गेंद (bowl) फेंक सकते हो और आप सोच सकते हो की आपने अच्छा गेंद फेंका और वह (सचिन) चलता है और मिड-विकेट (mid-wicket) के पीछे दो रन के लिए मारता है। उनका बल्ला (bat) बहुत भारी दिखता है, लेकिन वह इसको चारों तरफ ऐसा आसानी से लहराता है जैसा कोई टूथपिक (toothpick, दन्तखुदनी) हो।  — ब्रेट ली (ऑस्ट्रेलिआई क्रिकेट खिलाड़ी )
  • मैं कहूँगा कि सचिन लारा से भी बेहतर हैं, क्योंकि बल्लेबाजी करने के लिए वह जब बाहर आते हैं, तब उनमें वह आभामंडल (aura) दिखाई देता है। — ब्रेट ली (ऑस्ट्रेलिआई क्रिकेट खिलाड़ी )
  • वो खेल में सिर्फ एक किंवदंती हैं। 20 या यहाँ तक 30 की टेस्ट शतक की स्कोर खड़ा करना एक शानदार पेशा सूचित करता है, पर चालू रखना और 50 तक स्कोर कर लेना अनूठा हैं। उन्होंने दूसरे बल्लेबाजों के अनुसरण के लिए बेंचमार्क(benchmark) स्थापित किया हैं, लेकिन सच्चाई यह है कि कैसे कोई उनको अनुसरण (follow) कर सकता है यह देखना कठिन है, क्योंकि वो मापदंड (bar) को बहुत ऊँचा उठा रहें हैं।  यह सिर्फ, जहाँ सचिन सम्बंधित हैं, वहां की योग्यता के बारे में नहीं है।  यह आयु (longeivity), योग्यता (fitness) और कठोर श्रम (hard work) के बारे में है।  और इन सबको लिए हुए वो एक इतना सज्जन व्यक्ति हैं।  मैं उनको बल्लेबाजी करते देखता हूँ और कभी कभी मैं चकित हो जाता हूँ कि कैसे वो इसको देखने में इतना आसान बनता हैं ? उनके पास एक अविश्वसनीय तौफा (unbelievable gift) है और वो इसका सबसे अच्छा उपयोग किया है और आगे तक लम्बा जरी रखेगा।  उनके बारे में जान सकने के लिए मैं खुशनसीब (lucky) हूँ।  —- केविन पीटर्सन (ऑस्ट्रेलियाई और इंग्लिश क्रिकेट खिलाड़ी )
  • सचिन, वो इंसान जो हम सब बनना चाहते हैं । — एंड्रू सिमंड्स(ऑस्ट्रेलिआई क्रिकेट खिलाड़ी, खासकर तेंदुलकर के लिए लिखाया गया एक ऑस्ट्रेलियाई टी-शर्ट के ऊपर लिखा हुआ था )
  • सीरीज के अंत में मेरा सवेरा हुआ कि वो कुछ ख़ास हैं। — अयान हैली ( ऑस्ट्रेलिआई क्रिकेट खिलाड़ी, सन 1991/92 में तेंदुलकर के ऑस्ट्रेलियाई दौरे के बाद)
  • वो एक अति दारुण क्रिकेट खिलाड़ी हैं। वो युवा है और उनमें बहुत काबिलियत हैं।  उनका अपना शैली है।  बृहद क्रिकेट खेलने के लिए उनका मिजाज है और मैं आशा करता हूँ कि वो लगातार शक्तिशाली बनें।  — क्लीवे लॉयड ( वेस्ट इंडीज क्रिकेट खिलाड़ी )
  • ए बी(AB, Allan Border), इस छोटा काँटा(little prick) तुम से ज्यादा रन लाने जा रहा है। — मर्व ह्यूजेस (ऑस्ट्रेलिआई क्रिकेट खिलाड़ी, अल्लन बॉर्डर को बता रहे थे, जब पर्थ में 18-वर्ष की तेंदुलकर ने एक शतक बनाया था।  उस समय तेंदुलकर ने बॉर्डर से ज्यादा रन हासिल किये थे।)
  • इस आदमी की जो चीज़ की मैं बहुत कदर करता हूँ वह हैं उनकी संतुलन (poise)। वो जिस ढंग से चलते फिरते हैं, कोई भी स्थिति या संग को अनदेखा कर जिस ठाट से चलते हैं, यह उसका खानदान सुझाती हैं। — बिशन सिं बेदी  (भारतीय क्रिकेट खिलाड़ी )
  • शुरुआती दौर में, खासकर नब्बे की दशक की मध्य में, मुझे यह अनुभव था कि आप उनके अहं के चरों ओर खेल सकते हो और उन्हें आउट कर सकते हो। उन्हें विश्वास था कि वह कभी भी गेंदबाज को आक्रमण कर सकते हैं और जो कोई भी उनके ओर नई (कच्चा) गेंद फेकें, उनके लिये एक अच्छा मौका खड़ा था। अब अवश्य ही सब कुछ अलग हैं। — ईरापल्ली अनंतराव श्रीनिवास प्रसन्ना (भारतीय क्रिकेट खिलाड़ी )
  • उनको जितना ही देखता हूँ, और भी ज्यादा देखने का मन होता है। — मोहम्मद अज़हरुद्दीन  (भारतीय क्रिकेट खिलाड़ी )
  • उनको जितना अधिक देखता हूँ, उतना ही मैं भ्रमित (confused) हो जाता हूँ कि उनका सबसे बढ़िया प्रहार (knock) कौन सा है ? — एम् एल जयसिम्हा (भारतीय क्रिकेट खिलाड़ी )
  • छोटा चैंपियन (मतलब सचिन) कितने रनों का स्कोर खड़ा करता हैं उसके ऊपर भारत का भाग्य निर्भर करेगा। इसमें कोई संदेह नहीं कि तेंदुलकर एक असली चीज़ हैं।  — सुनील गावस्कर (भारतीय क्रिकेट खिलाड़ी )
  • सचिन क्रिकेट खेल का ‘कोहिनूर’ हीरा हैं।  — अजित वाडेकर (भारतीय क्रिकेट खिलाड़ी )
  • मैं उन भाग्यवान व्यक्तियों में से एक हूँ जो अपने जीवन में ब्रैडमैन और तेंदुलकर को बल्लेबाजी करते हुए देखा है और मेरे अनुसार तेंदुलकर ही मेरे ज़िंदगी में देखा हुआ सबसे अच्छा बल्लेबाज हैं ।— हनीफ महम्मद (पाकिस्तानी क्रिकेट खिलाड़ी )
  • मैं जानता हूँ कि नई गेंद बाकी है, पर मैं उसे “छोटू” (सचिन, जो परवर्ती आनेवाले हैं) के लिए बचाके रख रहा हूँ। — इमरान खान (पाकिस्तान की कप्तान बता रहें थे जावेद मिआंदाद को जो कि पाकिस्तान के उपकप्तान थे, सन 1989 में सचिन के पहला टेस्ट सीरीज के दौरान।  “छोटू” एक उपमहादेशीय पदबी है जो दुबला और नाटा आदमी के लिए प्रयोग होता है।)
  • वो सबसे बड़ा बल्लेबाज हैं, इसमें कोई शक नहीं है। पिछले 13-14 वर्षों में उन्होंने इतना कठोर काम किया और पुरे विश्व में प्रमाणित किया कि वो अनोखा हैं और जब वो इतना बढ़िया खेलता हैं, तब आप सिर्फ उनके विकेट के लिए ही प्रतीक्षा कर सकते हो।  — इंज़मामउलहक (पाकिस्तानी क्रिकेट खिलाड़ी )
  • वो निश्चित रूप से ऐसा कोई हैं जो प्रतियोगिता के मीलों आगे हैं। हमारे समय में, क्रिकेट कम खेला जाता था, पर अब सचिन के समय में प्रदर्शन के निरंतर दबाव है।  और जिस तरीके से वो अपने पुरे जीवनभ रबैटिंग किये हैं वह अदभुत है।  जैसे की मेरे पास, सचिन के अच्छे इन्निंग्स के बहुत सारे वीडियो मैं रखा हूँ, जो मैं उनके बैटिंग पारदर्शिता के याद दिलाने के लिए समय समय पर देखता रहूँगा जब वो अवसर लेंगे।  — ज़हीर अब्बास (पाकिस्तानी क्रिकेट खिलाड़ी )
  • हम उस वक्त नहीं देखा था और आप आगे का 20 साल का रास्ता देख नहीं सकते कि खिलाड़ी खेल के इतिहास के सन्दर्भ में क्या करने जा रहे हैं। उनका (तेंदुलकर) का जितनी रन टेस्ट और वॉन-डे में हैं उतनी रन जब आप स्कोर करने जाते हो और वो जितने शतक और अर्ध-शतक बनाये हैं उतने स्कोर करने जाते हो, तो ये यकीनन खेल के इतिहास में उनको अब तक का सबसे महान खिलाड़ी बनाते हैं।  आंकड़े(statistics) भारत और विश्व के क्रिकेट में उनके अवदानों (contributions) के बारे में बहुत बताते हैं। वो एक अभूतपूर्व (phenomenal) खिलाड़ी हैं।  — रिचर्ड हेडली (न्यू ज़ीलैण्ड क्रिकेट खिलाड़ी )
  • मैं सौ फीसदी निश्चित हो सकती हूँ कि अगर सचिन को खेलना अच्छा नहीं लग रहा होता तो वो एक मिनट भी ज्यादा नहीं खेलेगा। फिर भी वो बाहर जाकर खेलने के लिए इतना आग्रही रहता हैं।  वो तब तक खेलेगा जब तक वो खेल सकता है ऐसा महसूस करता हैं।  — अंजलि तेंदुलकर (सचिन की पत्नी)
  • सचिन के बिना मैं क्रिकेट की कल्पना कर सकती हूँ। पर क्रिकेट के बिना सचिन की कल्पना नहीं कर सकती। — अंजलि तेंदुलकर (सचिन की पत्नी)
  • हेलमेट के नीचे, वह अनियंत्रित तरंगित बालों के नीचे, खोपड़ी के अंदर, कुछ है जो हम नहीं जानते, कुछ जो वैज्ञानिक पैमाने से परे है।  कुछ है जो उनको ऊंचा उठने देता है, खेल के उस इलाके में घूमने फिरने देता है जो, हमें भूल जाइये, जिन लोगों को उनके साथ खेलने का सौभाग्य मिला वह भी तोल नहीं पाते।  जब वह बल्लेबाजी करने बाहर निकलते हैं, लोग अपना टेलीविज़न सेट चालु  कर देते हैं और अपना ज़िंदगी बंद कर देते हैं।  — बीबीसी स्पोर्ट्स
  • जब सचिन बल्लेबाजी करता है तब आप सारा जुल्म करते रहिये।  वो सारा अनदेखा हो जायगा क्योंकि भगवान् भी उनका खेल देखता है।  — सिडनी क्रिकेट मैदान में एक प्लेकार्ड
  • अपराध तब करो जब सचिन बैटिंग कर रहा हो, क्योंकि भगवान भी तब उसकी बैटिंग देखने में व्यस्त होते हैं — ऑस्ट्रेलीआइ प्रशंशक(fan)
  • हमने चैंपियंस (champions) देखे, हमने लेजेंड्स (legends) देखे, लेकिन हमने कभी भी दूसरा सचिन तेंदुलकर नहीं देखा और ना हम कभी देख पायेंगे — टाइम मैगजीन
  • सचिन तेंदुलकर की आख़री हार को ठीक-ठीक एक क्रिकेट खेल की सन्दर्भ में रखना एक खिलाड़ी के प्रति समीचीन नहीं होगा। क्रिकेट की दुनिया में उनके पारदर्शिताओं को दूसरे क्षेत्र जैसे विज्ञानं, कला, साहित्य, आदि के समरेखा में देखना होगा, मानवीय उत्कृष्टता की सीमारेखा को आगे धकेलना होगा। — डौन (Dawn, एक पाकिस्तानी  अखबार )
  • सचिन मुझे उसकी माँ की जैसा देखता है और मैं हमेशा एक माँ की तरह उसके लिए प्रार्थना करती हूँ।मैं वह दिन भूल नहीं सकती जब वह पहली बार मुझे ‘आई’ (मतलब माँ) कहकर बुलाया था।  मैं कभी उसकी कल्पना नहीं की थी।  यह मेरे लिए सुखद आश्चर्य था और उसके जैसा पुत्र पाने के लिए मैं सौभाग्यशाली महसूस करती हूँ।  — लता मंगेशकर (किंवदंती भारतीय गायिका)

 

तो, पाठकों, दर्शकों, दोस्तों, छात्रों ! देखे आप सब, किंवदंती भारतरत्न महान भारतीय क्रिकेट खिलाड़ी सचिन तेंदुलकर के प्रशंसा में लोगों ने कितने सुन्दर और दिलचस्प बातें बताईइनमें बड़े बड़े दिग्गज क्रिकेट खिलाड़ी ही हैं, कोई आम आदमी नहीं । जैसे कि मेरा भी मानना है कि इनमें से कुछ वचनों को लेकर आपका मतभेद हो सकता है। नाना मुनि नाना मति ! खैर, जो भी हो, इन बचनों को पड़कर आप सब को कैसा लगा ? मुझे कमेंट (comment)के माध्यम से ज़रूर बताएं, अपने दोस्तों और रिश्तेदारों को  Facebook और अन्य  social media के माध्यम से ज़रूर share करें  ! इस ब्लॉग  (Blog) को सब्सक्राइब (subscribe) भी करिये ताकि कोई नयी पोस्ट (post) प्रकाशित होने पर आपको अपने आप मिल जाय। 

 

अगर आप चाहें, तो अंग्रेजी में भी इन सब वचनों का एक संस्करण  यहां क्लिक  करने पर उपलब्ध होगा

 

धैर्यपूर्वक पढ़ने के लिए आप सबको अनेकों अनेक धन्यवाद  !

 

shareShare this post
folder_openAssigned tags
content_copyCategorized under

No Comments

comment No comments yet

You can be first to leave a comment

Submit an answer

info_outline

Your data will be safe!

Your e-mail address will not be published. Also other data will not be shared with third person.

18 + 2 =